FACEBOOK PAGE FOLLOW US
WHATSAPP CHANNEL FOLLOW
TELEGRAM CHANNEL JOIN NOW

Low Investment Business Idea: मात्र 10 हज़ार रुपये की एक मशीन लगाओ, हर महीने तगड़ा मुनाफ़ा

5/5 - (1 vote)

व्यापार तरकीब (Low Investment Business Idea) अगर आप भी नौकरी से परेशान हैं और कोई बिजनेस शुरू करना चाहते है तो हमारे पास एक जबरदस्त व्यापार तरकीब है। यह बिजनेस आइडिया है (प्रदूषण जांच केंद्र) जबसे केंद्र सरकार द्वारा मोटर वाहन अधिनियम लागू कर दिया गया है, प्रदूषण जांच केंद्र का व्यवसाय बहुत तेजी से बढ़ रहा है। नए मोटर व्हीकल एक्ट में प्रदूषण सर्टिफिकेट न होने पर भारी जुर्माने का प्रावधान है। ऐसे में सभी वाहन मालिकों को प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र (पीयूसी) की आवश्यकता होती है। इस बिजनेस को शुरू करते ही आपको पहले दिन से ही कमाई होने लगेगी।

इस बिजनेस की बढ़ेगी डिमांड

अगर कोई व्यक्ति गाड़ी चला रहा है और उसके पास प्रदूषण प्रमाणपत्र (पीयूसी) नहीं है, तो उस पर जुर्माना लगाया जा सकता है। इस जुर्माने की राशि करीब 10 हज़ार रुपये तक हो सकती है। ऐसे में हर छोटे से लेकर बड़े वाहन के लिए प्रदूषण प्रमाणपत्र लेना जरूरी है। कहने का मतलब यह है कि 50 हज़ार रुपये की एक गाड़ी हैं मगर उसके पास प्रदूषण प्रमाणपत्र नहीं है तो 10 हज़ार रुपये तक का जुर्माना लगाया जाएगा। जुर्माने से बचने के लिए लोग अपने वाहन का प्रदूषण प्रमाण पत्र जरूर बनाएंगे जिससे आने वाले समय में इस कारोबार की बहुत तेजी से मांग होने वाली है।

प्रदूषण जांच केंद्र से कितनी होगी कमाई?

इस बिजनेस को आप हाईवे-एक्सप्रेसवे के नजदीक शुरू कर सकते हैं। शुरुआत में आप सिर्फ 10 हज़ार रुपये का निवेश कर सकते हैं। जिससे आप हर महीने 40-50 हज़ार रुपये तक कमा सकते हैं। हाईवे और एक्सप्रेसवे के किनारे रोजाना 1000-2000 रुपए आसानी से कमा सकते हैं।

प्रदूषण जांच केंद्र का व्यवसाय कैसे शुरू करें?

प्रदूषण परीक्षण केंद्र खोलने के लिए सबसे पहले स्थानीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) से लाइसेंस प्राप्त करना होगा। इसके लिए नजदीकी आरटीओ कार्यालय में आवेदन करना होगा। पेट्रोल पंप, ऑटोमोबाइल वर्कशॉप के आसपास प्रदूषण जांच केंद्र खोले जा सकते हैं। इसके लिए आवेदन करने के साथ 10 रुपये का शपथ पत्र देना होगा. स्थानीय प्राधिकारी से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त करना होगा। हर राज्य में प्रदूषण जांच केंद्र की अलग-अलग फीस होती है। कुछ राज्यों में आप ऑनलाइन भी आवेदन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े – Business Idea: इस चीज की मार्केट में बंपर डिमांड, शुरू करके कमाये हर महीने 5 लाख

प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के नियम

पहचान के तौर पर पीले रंग के केबिन में ही प्रदूषण जांच केंद्र खोलना होगा। ताकि उसकी अलग से पहचान हो सके। केबिन का साइज 2.5 मीटर लंबाई, 2 मीटर चौड़ाई और 2 मीटर ऊंचाई होनी चाहिए। प्रदूषण जांच केंद्र पर लाइसेंस नंबर लिखना जरूरी है।

कौन-कौन प्रदूषण जांच केंद्र खोल सकते हैं

प्रदूषण परीक्षण केंद्र खोलने के लिए मोटर मैकेनिक्स, ऑटो मैकेनिक्स, स्कूटर मैकेनिक्स, ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग, डीजल मैकेनिक्स में प्रमाण पत्र या औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) से प्रमाणित प्रमाण पत्र होना चाहिए। जानकारी के लिए बता दे, आपको एक स्मोक एनालाइजर भी खरीदना होगा।

यह भी पढ़ें – Business Idea 2024 : शुरू करें यह जायकेदार बिजनेस, एक बार के निवेश से होगी लाइफटाइम कमाई

Leave a Comment