Share Market Charts Study in Hindi | शेयर मार्केट चार्ट कैसे देखें

Share Market Charts का नाम तो आपने सुना ही होगा, अगर आपको सही समय पर शेयर मार्केट से अच्छा मुनाफ़ा कमाना है तो शेयर मार्केट चार्ट्स को समझना बहुत जरूरी है.

इससे आप कम समय तक काम करते है और बहुत अच्छा रिटर्न कमाते है. बशर्ते शेयर मार्केट के चार्ट को समझने का ज्ञान होना जरूरी है.

अगर आप शेयर बाजार में ट्रेडिंग या निवेश करते है तो यह आपकी इनकम को बढ़ा देता है. आपको पता होना चाहिए कि कब स्टॉक खरीदना है और कब मुनाफा कमाकर बेचना है.

क्योंकि इससे आपको पता चल जाएगा कि आपका खरीदा गया शेयर कितने ऊपर या नीचे जाने की संभावना है.

अधिकांश खुदरा निवेशकों के दिमाग मे कोई भी Share Market Charts खोलने पर इस तरह के सवाल दिमाग मे आने शुरू हो जाते है.

शेयर बाजार मे किसी भी चार्ट को समझने के लिए पहले और भी कई अभ्यास होते है. तभी आपका Analytical कौशल विकसित होगा जो आपको उस चार्ट में उपयोग करना होगा.

Share Market Charts का Trend कैसे देखना चाहिए?

Share Market Charts मे तीन से चार तरह के ट्रेंड देखने को मिलते है UP Trend, Down Trend, Sideways Trend और Maturity Trend इन सभी ट्रेंड के काम करने के तरीके भी अलग ही होते है.

UP Trend क्या है और कैसे देखना चाहिए?

इस Trend का मतलब है Higher Top and Higher Bottom जब भी चार्ट इस Trend को फॉलो करेगा आपको लगातार स्टॉक सीढ़ी की तरह ऊपर जाते ही नजर आएगा. तब आपको हमेशा उन शेयर को खरीदना चाहिए.

Down Trend क्या है और कैसे देखना चाहिए?

इस ट्रेन्ड का मतलब है Lower Top Lower Bottom. जब भी आपको चार्ट मे Down Trend देखने को मिलेगा शेयर हमेशा सीढ़ी की तरह नीचे आता नजर आने वाला है. ऐसे समय मे उस शेयर को बेचके चलना चाहिए.

Sideways Trend क्या है और कैसे देखना चाहिए?

Sideways Trend Chart मे शेयर प्राइस न तो ऊपर की और जाता है और न ही नीचे की और बल्कि एक ही प्राइस पर अटक सा जाता है.

अगर आप शेयर मार्केट मे नए है तो ऐसे चार्ट वाले शेयर मे आपको सोच समझकर इन्वेस्ट करना चाहिए है. क्यूंकि इसमे रिस्क बहुत होता है.

इस केस मे या तो Share Market Charts एकदम से UP Trend करेगा जिससे आपकी कमाई होगी या फिर Down Trend तेजी से करेगा जिसकी वजह से आपका पैसा डूबने की संभावना तय है.

Maturity Trend Charts क्या है और कैसे समझे?

जब आप सभी स्टेप फॉलो कर रहे हो तब आपको अंतिम में देखना चाहिए कही वो स्टॉक कम समय में बहुत ज्यादा ऊपर तो चला नहीं गया। अगर आपको लगता है प्रॉफिट बुकिंग का समय आ चकता है। उस स्टॉक के चार्ट से आपको दूर रहना चाहिए।

चाहे न्यूज़ में कितना भी अच्छा उस स्टॉक के बारे में बताए पर ज्यादा लालच के चक्कर मे भूलकर भी इन्वेस्ट नही करना चाहिए है.

क्यूंकि वो शेयर पहले ही बहुत ज्यादा भाग चूका है आगे चार्ट में जितना बढ़ने की संभवाना होती है उतना ही ज्यादा गिरावट का माहौल भी देखने को मिल सकता है. इसलिए Maturity Trend Charts से दूर रहना ही बेहतर है.

Stock Market Chart Analysis कैसे जाने?

किसी भी Share Market Charts का मजबूत पक्ष जानने के लिए आपको पहले उस शेयर की गतिविधि कैसी है उसको जानना बहुत जरुरी है.

यदि शेयर प्राइस बहुत ज्यादा ऊपर नीचे होता दिखाई दे तो आपको ऐसे शेयर को खरीदने से बचना चाहिए.

अगर आपको लगता है Share Market Charts धीरे धीरे ऊपर या नीचे जाने की और है तो आप उस शेयर मे ट्रेन्ड के हिसाब से इन्वेस्टमेंट करे इसमे फायदा होने के ज्यादा आसार होते है.

Share Market Charts देखकर शेयर खरीदने का सही तरीका?

किसी भी स्टॉक के चार्ट मे इन्वेस्ट करना है तो उसके Momentum को ध्यान मे रख कर इन्वेस्ट करना चाहिए. बहुत सारी कंपनी के शेयरो के ऐसे चार्ट आपको देखने को मिलेंगे जिनकी ऊपर जाने की स्पीड काफी कम होती है.

अगर आप ऐसे शेयर में इन्वेस्टमेंट करेंगे तो अच्छा मुनाफा कमाने के लिए ज्यादा समय लग सकता वाला है. इसलिए आपको अच्छे Momentum वाले चार्ट को ही चुनना चाहिए.

Competitive Stock के चार्ट को कैसे समझे?

अगर आपने किसी कंपनी के शेयर मे इन्वेस्ट करने की सोची है तो उस कंपनी के अलावा और भी कंपनी होती है जिनका बिजनेस मॉडल उन्ही की तरह होता है.

इसलिए बाकि Competitive कंपनी के प्रदर्शन पर भी नजर रखनी चाहिए. आपको ध्यान मे रखना चाहिए कि कंपनी का शेयर प्राइस ग्रोथ प्रतियोगी कंपनी से बेहतर प्रदर्शन दिखा रहा है या नही.

यह भी पढ़े ―

Affle India Share Price Target 2022, 2023

Bharti Airtel Share Price Target 2022, 2023

Sona Comstar Share Price Target 2022, 2023

Share Market Kya Hai – शेयर मार्किट हिंदी

Best Low Price Shares

Leave a Comment