[Demat Account] डीमैट खाता क्या होता है और डीमैट खाते कितने प्रकार के होते है (Hindi)

शेयर मार्केट में निवेशक के लिए डीमैट खाते की आवश्यकता होती है. बिना खाते के शेयर मार्केट में ऑनलाइन निवेश नही किया जा सकता पर बहुत सारे लोगो के Demat Account से जुड़े कई सवाल है. जैसे डीमैट खाता क्या होता है? डीमैट खाते कितने प्रकार के होते है? डीमैट खाता कहां खुलता है? तो आज हम इस पर विस्तार से चर्चा करेंगे और इन सवालों के जवाब को विस्तार से समझेंगे. और साथ ही यह भी जानेंगे कि सबसे अच्छा डीमैट खाता कौन सा है?

डीमैट खाता क्या होता है – What is Demat Account

ऑनलाइन शेयर खरीदने और बेचने के लिए डीमैट खाते (Demat Account) की आवश्यकता होती है और ऑनलाइन के माध्यम से ही डीमैट खाता किसी भी ब्रोकर के साथ खोला जा सकता है. यह खाता बचत खाते के समान है. बस जैसे हम पैसो की बचत के लिए बैंक में बचत खाता खोलते है उसी तरह शेयर मार्केट में शेयर खरीदने और बेचने के लिए भी डीमैट खाते की आवश्यकता होती है.

यह भी पढ़ेसबसे ज्यादा रिटर्न देने वाले शेयर 2022

डीमैट खाते से आप निवेशक किसी भी कंपनी के शेयर खरीद और बेच सकते है. इसके अलावा बैंको के माध्यम से भी डीमैट खाता (Demat Account) खोला जा सकता है. तो चलिये सबसे पहले जानते है डीमैट खाते कितने प्रकार के होते हैं?

डीमैट खाते कितने प्रकार के होते है – What are the Types of Demat Accounts

डीमैट खाते तीन प्रकार के होते है. हर भारतीय और विदेशी नागरिक अपने पर्सनल दस्तावेज की मदद से डीमैट खाता खोल सकता है.

  1. 1. Regular Demat Account (नियमित डीमैट खाता)
  2. 2. Repatriable Demat Account (प्रत्यावर्तनीय डीमैट खाता)
  3. 3. Non-Repatriable Demat Account (गैर-प्रत्यावर्तनीय डीमैट खाता)

Regular Demat Account: कोई भी निवेशक ऑनलाइन ब्रोकर के साथ रेगुलर डीमैट खाता ऑनलाइन खोल सकता है. इसमें आपको कुछ पर्सनल दस्तावेज देने होते है जैसे – पैन कार्ड डीटेल, आधार कार्ड, पहचान पत्र, अपना मोबाइल नंबर, ईमेल खाता, सिग्नेचर (एक सादे कागज पर सिग्नेचर की हुई फोटो) और अपनी खुद की फोटो.

Repatriable Demat Account: यह डीमैट खाता भारतीय होने के बाद भारत में नही रहने वाले लोगो (NRI) के लिए होता है. उन्हें इस डीमैट खाते को खोलने के लिए एनआरई बैंक खातों की आवश्यकता होगी. इस प्रकार का डीमैट अकाउंट (अपने देश को लौटकर आने वाले लोगो के लिए) होता है.

Non-Repatriable Demat Account: यह डीमैट खाता भारत में निवास न करने वाले लोगो (NRO) के लिए होता है. इस प्रकार के खाते से फंड को विदेश में ट्रांसफर नही किया जा सकता है. इस प्रकार का डीमैट खाता खोलने के लिए एनआरओ बैंक खाते की आवश्यकता होती है.

डीमैट खाता कहां खोला जाता है – Where to Open Demat Account

भारत में कई डिस्काउंट ब्रोकर कंपनी मौजूद है जिनके माध्यम से घर बैठे ऑनलाइन डीमैट खाता खोला जा सकता है. आप Upstox, Groww, Zerodha और 5Paisa जैसे टॉप ब्रोकर के साथ ऑनलाइन डीमैट खाता आसानी से खोल सकते है. और अगर आप विदेशी कंपनियों के शेयर खरीदना चाहते तो आप INDmoney पर डीमैट खाता खोल सकते है.

इसके लिए आपको पर्सनल दस्तावेज देने होते है जिनका उल्लेख हम ऊपर कर चुके है. अगर आप किसी एजेंट से डीमैट खाता चालू कराते है तो उसका आपको शुल्क देना होगा. लेकिन ब्रोकरेज कंपनी से खाता खुलवाने पर आपको किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नही देना होता है.

सबसे अच्छा डीमैट खाता कौन सा है – Which is the Best Demat Account

रेगुलर डीमैट खाता भारतीय लोग खोलते है. जो आप ऊपर बताई गई किसी भी ब्रोकरेज कंपनी द्वारा खोल सकते है. लेकिन हमारी आपको एक खास सलाह है, किसी भी ब्रोकरेज कंपनी के साथ डीमैट खाता खोलने से पहले आपको ब्रोकर चार्ज के बारे में जरूर जानना चाहिए. क्योंकि कई ब्रोकरेज कंपनियां ऐसी होती है जो बहुत ज्यादा ब्रोकर चार्ज करती है. जिसका पछतावा आपको आगे चलकर हो सकता है.

बात करे सबसे अच्छा डीमैट खाता कौन सा है तो आप Upstox के साथ अपना Demat Account आसानी से खोल सकते है. क्योंकि इस कंपनी में भारत के बड़े बिज़नेसमेन रतन टाटा का निवेश है. और यह ब्रोकरेज कंपनी बहुत कम ब्रोकर चार्ज पर काम करती है. साथ ही इस कंपनी की कोई ऐसी छुपी हुई शर्त नही है जिससे आपको बाद में पछताना पड़ेगा.

Upstox पर डीमैट खाता खोलने के लिए क्लिक करे <<

INDmoney पर डीमैट खाता खोलने के लिए क्लिक करे <<

यह भी पढ़ेशेयर कब खरीदना चाहिए

Leave a Comment